Enter your search terms:
Top

Social Presence

Like @

Facebook

Follow us on

Twitter

Give ❤ on

Instagram

Subscribe on

Youtube

Connect on

LinkedIn

Hire us

Connect

NEW DELHI : भारत और SRI LANKA के बीच खेले जा रहे तीसरे TEST MATCH के दूसरे दिन HARDIK PANDYA ने इतिहास रच दिया।

पांड्या ने सिर्फ 86 गेंदों में अपना शतक पूरा किया। पांड्या ने अपनी पारी में 7 छक्के और 8 चौके ठोके। पांड्या की बेहतरीन पारी के बाद हर तरफ उनकी तारीफ हो रही है। भारतीय टीम के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने भी पांड्या की जमकर तारीफ की और माना कि पांड्या में भारत का अगला कपिल देव बनने की काबीलीयत है। प्रसाद ने कहा, अगर पांड्या इसी तरह खेलते रहे और खुद पर काबू बनाए रखते हैं तो उन्हें भारत का अगला कपिल देव बनने से कोई नहीं रोक सकता।

प्रसाद ने आगे कहा, मुझे इस बात की खुशी है कि हमारी ऑलराउंडर की खोज पूरी हो गई है। पांड्या पहले ही वनडे और टी20I में अपनी उपयोगिता साबित कर चुके हैं और अब उन्होंने टेस्ट में भी शानदार आगाज किया है। पांड्या अगर इसी तरह से खेलते रहे तो वो भारत के अगले कपिल देव बन सकते हैं। पांड्या ने मिले हुए मौकों का पूरा फायदा उठाया है। पांड्या की सबसे बड़ी खासियत ये है कि वो बुनियादी तौर पर काफी मजबूत हैं। उनकी बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग तीनों ही क्षेत्र शानदार हैं और वो मैच में हर समय छाय रहते हैं।

भारत के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि पांड्या भारत के लिए वो कर सकते हैं जो बेन स्टोक्स इंग्लैंड के लिए कर रहे हैं। कोहली ने कहा था, मुझे इसके पीछे कोई कारण नजर नहीं आता कि पांड्या वो क्यों नहीं कर सकते जो स्टोक्स इंग्लैंड के लिए कर रहे हैं। हार्दिक पांड्या ने श्रीलंका के खिलाफ पल्लेकेले टेस्ट में शानदार 96 गेंदों में 108 रनों की पारी खेली।

इस दौरान उन्होंने 86 गेंदों में शतक पूरा किया और अपने नाम भारत की ओर से पांचवें सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड कर डाला। हार्दिक पांड्या की आतिशी पारी का ही असर था कि एक समय 337/7 के साथ जूझती नजर आ रही टीम इंडिया ने आखिरकार 487 रन बना डाले। इस आतिशी पारी के दौरान पांड्या ने 7 छक्के और 8 चौके लगाए।