Enter your search terms:
Top

Social Presence

Like @

Facebook

Follow us on

Twitter

Give ❤ on

Instagram

Subscribe on

Youtube

Connect on

LinkedIn

Hire us

Connect

नई दिल्ली। स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले से तिरंगा फहराया और फिर देश की जनता को संबोधित किया। पीएम ने अपने संबोधन में काफी सारे बिंदुओं को छुआ। आइए जानते हैं पीएम मोदी के संबोधन की खास बातें।

ये युवा बनेंगे भाग्य विधाता

1- देश की आजादी के लिए जिन-जिन लोगों ने बलिदान दिया है, योगदान दिया है, ऐसे सभी को नमन करता हूं, आदर करता हूं।

2- पीएम मोदी ने गोरखपुर हादसे पर संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि भारत के लोग कंधे से कंधा मिलाकर गोरखपुर हादसे में साथ खड़े रहे।

3- यह एक स्पेशल साल है, भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ है, चंपारन सत्याग्रह की 100वीं वर्षगांठ है, गणेश उत्सव की 125वीं वर्षगांठ है।

4- हमारे देश में सभी समान हैं, कोई बड़ा और छोटा नहीं है। हम सब साथ मिलकर देश में एक सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं।

5- 1 जनवरी 2018 कोई सामान्य दिन नहीं होगा, इस दिन पैदा होने वाले हमारे देश के भाग्य विधाता होंगे। 21वीं शताब्दी में जन्मे नौजवानों के लिए यह वर्ष काफी महत्वपूर्ण वर्ष होगा। ये युवा 18 साल के हो जाएंगे।

ईमानदारी का पर्व

6- ‘चलता है’ का रवैया छोड़ना चाहिए। अब हमें सोचना चाहिए ‘बदल सकता है’- यह देश को आगे बढ़ाने में मदद करेगा।

7- सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र करते हुए मोदी बोले- जब सर्जिकल स्ट्राइक हुई तो दुनिया को हमारा लोहा मानना पड़ा।

8- देश की सुरक्षा हमेशा ही हमारी प्राथमिकता होगी। हमारी सेनाओं ने हमेशा अपना लोहा मनवाया है।

9- आज ईमानदारी का पर्व मनाया जा रहा है और बेइमानों को सर छुपाने की जगह नहीं मिल रही है।

10- जीएसटी की बात करते हुए पीएम बोले कि देश जीएसटी का समर्थन करने के लिए साथ आया और तकनीक ने भी मदद की है।

‘ना गाली से, ना गोली से’

11- वन रैंक वन पेंशन को लागू करने को लेकर पीएम ने कहा- हमने ‘वन रैंक, वन पेंशन’ लागू किया, सुरक्षा वालों का हौंसला और बढ़ा।

12- पीएम ने आतंकवाद पर भी बात की और कहा- आपको यह जानकर खुशी होगी कि आज आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हम अकेले नहीं हैं, कई देशों ने हमारा समर्थन किया है। आतंकवाद के खिलाफ कोई नरमी नहीं बरती जाएगी, आतंकवादियों को बार-बार हमने कहा है कि आप मुख्यधारा में आएं।

13- कश्मीर के मुद्दे पर पीएम बोले- ‘ना गाली से समस्या सुलझने वाली है, ना गोली से… समस्या सुलझेगी हर कश्मीरी को गले लगाने से’। मुट्ठी भर अलगाववादी नए-नए पैंतरे रखते हैं।

14- पीएम ने कहा- हम 9 महीने में मंगलयान पर पहुंच सकते हैं, यह है हमारी क्षमता, लेकिन एक रेल प्रोजेक्ट पिछले 42 सालों से अटकी हुई है।

15- भले ही बात गैस सब्सिडी की हो या स्वच्छ भारत की हो या फिर नोटबंदी की हो, भारत के लोगों ने सभी को लागू करने में अपना पूरा सहयोग दिया।

‘लोक से चलेगा तंत्र’

16- न्यू इंडिया का लोकतंत्र ऐसा होगा, जिसमें तंत्र से लोक नहीं, लोक से तंत्र चलेगा।

17- हम अपने युवाओं को नौकरियां पैदा करने वाला बना रहे हैं, ना कि नौकरी ढूंढ़ने वाला।

18- तीन तलाक पर अपनी बात कहते हुए पीएम बोले- पूरे देश में तीन तलाक के खिलाफ एक आंदोलन निर्माण हुआ, जो मेरी बहन इसके खिलाफ लड़ रही हैं उनका अभिनंदन।

19- आस्था के नाम पर हिंसा कभी भी स्वीकार नहीं हो सकती, पहले नारा था ‘भारत छोड़ो’, अब नारा है ‘भारत जोड़ो’। देश शांति, एकता और सद्भावना से चलता है, सबको साथ लेकर चलना हमारी सभ्यता और संस्कृति है।

20- पीएम मोदी ने कहा- देश में अब लूट नहीं चलेगी, सबको जवाब देना पड़ेगा। भ्रष्टाचार और काले धन के खिलाफ हमारी लड़ाई अभी आगे और बढ़ेगी।

‘गांवों तक हमने पहुंचाई बिजली’

21- हम सब मिलकर एक ऐसा देश बनाएंगे जहां देश का किसान चिंता से नहीं चैन से सोएगा, आज वो जितना कमा रहा है, 2022 तक उससे दोगुना कमाएगा।

22- हम सब मिलकर एक ऐसा भारत बनाएंगे, जहां गरीब के पास पक्का घर होगा, बिजली होगी, पानी होगा। 14 हजार से अधिक गांवों में पहली बार बिजली पहुंची।

23- हम तेजस हवाई जहाज के द्वारा दुनिया के अंदर अपनी धमक पहुंचा रहे हैं।

24- सस्ती दवाई गरीब के लिए बहुत बड़ी राहत है। हम गरीब और मध्यमवर्ग के लिए एक से बढ़कर एक योजनाएं शुरू कर रहे हैं। हमने जिला स्तर तक डायलिसिस को पहुंचाया है।

25- शास्त्रों में कहा गया है- अनियत कालाः प्रवृत्तयो विप्लवन्ते। सही समय पर अगर कोई कार्य पूरा नहीं किया, तो फिर मनचाहे नतीजे नहीं मिलते।